ओमीक्रोन के खतरे के बीच दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना केस, 24 घंटे में 65 नए मामले, एक की मौत

नई दिल्ली
नए वेरिएंट ओमीक्रोन के खतरे के बीच देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना केस एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 65 नए मामले सामने आए और महामारी से एक मरीज की मौत हो गई। इसके साथ ही संक्रमण की दर 0.11 प्रतिशत दर्ज की गई। स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी।

दिल्ली में दिसंबर में अब तक कोविड-19 से दो मरीजों की मौत हो चुकी है। नवंबर में सात, अक्टूबर में चार और सितंबर में पांच मरीजों की मौत हुई थी। शहर में अब तक संक्रमण के 14,41,514 मामले सामने आ चुके हैं और 25,100 मरीजों की मौत हो चुकी है।

देश में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन के मामले सामने आने के चलते बढ़ी चिंता के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर बुधवार को कहा कि वायरस के इस नए स्वरूप के मरीजों का उपचार केवल निर्धारित कोविड अस्पतालों के पृथक-वास वार्ड में ही करना होगा। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने पत्र में कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि इन अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मी वायरस से बचाव के पर्याप्त उपाय अपनाएं ताकि मरीज से अन्य लोगों में संक्रमण फैलने का खतरा नहीं रहे।

भूषण ने राज्यों को यह भी सुनिश्चित करने का सुझाव दिया कि संक्रमित पाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों और उनके करीबी संपर्क वाले लोगों के नमूने जीनोम अनुक्रमण के वास्ते प्रयोगशालाओं में भेजे जाएं और समय-समय पर इनकी समीक्षा की जाए। साथ ही कहा कि वायरस की रोकथाम के मद्देनजर मरीज के संपर्क में आए सभी लोगों का पता लगाने और उनके नमूनों की जांच करने को लेकर गंभीरता से कदम उठाए जाएं। सचिव ने सामुदायिक स्तर पर भी निगरानी पर जोर दिया। उन्होंने पत्र में कहा, '' जिला निगरानी दल द्वारा क्षेत्र में पहुंचे अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की निगरानी सुनिश्चित की जाए और, अगर वे जोखिम वाले देशों से पहुंचे हैं तो आठवें दिन उनका कोविड परीक्षण कराए जाने की आवश्यकता है।

मोबाइल ऐप डाउनलोड करें और रहें हर खबर से अपडेट।