मप्र में कांग्रेस अपने अधिकांश विधायकों फिर से उतारेगी चुनावी मैदान में

भोपाल, 20 अक्टूबर :भाषा: मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों में एक ओर जहां सत्तारूढ़ भाजपा सत्ता विरोधी लहर से निपटने के लिये अपने 165 मौजूदा विधायकों में से आधे विधायकों को टिकट नहीं देने की नीति पर गंभीरता से विचार कर रही है, वहीं 15 वर्ष से प्रदेश के सत्ता से बाहर विपक्षी दल कांग्रेस अपने 57 विधायकों में से 42 को फिर से चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी में है। कांग्रेस के एक नेता ने ‘पीटीआई-भाषा’ का बताया कि कांग्रेस के 42 मौजूदा विधायकों का कार्य संतोषजनक पाया गया है इसलिये उन्हें राज्य विधानसभा चुनावों में फिर से उतारने की तैयारी पार्टी कर रही है। उन्होने कहा, ‘‘पार्

मध्य प्रदेश: जनता से विकास का 'आइडिया' मांग रही बीजेपी, चुनाव आयोग से शिकायत

भोपाल
पिछले 15 साल से मध्य प्रदेश की सत्ता पर काबिज बीजेपी अब मध्य प्रदेश को समृद्ध बनाने के लिए जनता से 'आइडिया' मांग रही है। बीजेपी ने प्रदेश की जनता को नारा दिया है-'आइडिया में है दम, पूरा करेंगे हम।'

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को इसके लिए एक विशेष अभियान भी शुरू किया। इस अभियान के तहत बीजेपी प्रदेश की सभी 230 विधानसभाओं में प्रदेश को समृद्ध बनाने के लिये सुझाव मांगेगी। यह अभियान अगले 15 दिन तक चलेगा। उधर, कांग्रेस ने इस अभियान को मतदाता को प्रभावित करने वाला बताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की है।

चुनावी पेंच में उलझी फिल्म उद्योग की हड़ताल, 400 सिनेमाघरों में सन्नाटा

इंदौर, 21 अक्टूबर (भाषा) मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर सियासी सरगर्मियां लगातार जोर पकड़ रही हैं। इस बीच, दर्शकों के त्योहारी उत्साह के बावजूद सूबे के करीब 400 छोटे-बड़े सिनेमाघरों में पखवाड़े भर से नयी फिल्में रिलीज नहीं हो पा रही हैं। शहरी स्थानीय निकायों द्वारा सिनेमा टिकटों पर मनोरंजन कर लगाने के फरमान के खिलाफ लामबंद फिल्म उद्योग की हड़ताल के कारण यह स्थिति बनी है। सिनेमा उद्योग के अग्रणी संगठन फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष जितेंद्र जैन ने रविवार को "पीटीआई-भाषा" को बताया, "सिनेमा टिकटों पर 28 प्रतिशत माल एवं सेवा कर (जीएसटी) पहले ही लग रह

MP: चुनाव से पहले जागरुकता के लिए शराब की बोतल पर स्टीकर लगाकर 'वोटर अवेयरनेस'

भोपाल
मध्य प्रदेश में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले वोटरों के बीच जागरुकता फैलाने का एक अभियान यहां प्रशासन के लिए फजीहत की वजह बन गया। राज्य के झबुआ जिले में जिला निर्वाचन अधिकारी की ओर से लोगों के बीच वोट करने के लिए जागरुकता फैलाने हेतु शराब के ठेकों पर एक बड़ा अभियान शुरू किया गया था, जिसे लोगों की आलोचना के बाद बंद कराना पड़ा।

छतरपुर: अफसरों ने बांटे मोदी, शिवराज की तस्वीरों वाले पर्चे, कार्रवाई

छतरपुरमध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता लागू है, फिर भी छतरपुर जिले में शनिवार को ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान की बैठक हुई और सरकारी योजनाओं का प्रचार किया गया। इस मौके पर बांटे गए साहित्य में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरों के पैम्फलेट भी थे।