निर्णय लेने की प्रक्रिया में कृत्रिम बुद्धिमत्ता के इस्तेमाल की योजना नहीं : प्रधान न्यायाधीश

नागपुर, 14 दिसंबर (भाषा) भारत के प्रधान न्यायाधीश शरद बोबडे ने शनिवार को कहा कि अदालतों में निर्णय लेने की प्रक्रिया में कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) तकनीक का उपयोग करने की कोई योजना नहीं है। न्यायमूर्ति बोबड़े को यहां उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में सम्मानित किया गया। वह इसी कार्यक्रम में पूर्व प्रधान न्यायाधीश आर एम लोढ़ा द्वारा एआई तकनीक के इस्तेमाल को लेकर चिंता जताने के बाद सफाई दे रहे थे। न्यायमूर्ति लोढ़ा ने अपने भाषण में कहा था, “यह विचार अच्छा है और इससे अदालतों में मुकदमों के प्रबंधन तथा न्यायिक कार्यों के निर्वहन में महत्वपूर्ण मदद मिल सकती है। लेकिन, अन्य

वकीलों की फीस पर प्रधान न्यायाधीश ने कहा, अधिक कानूनी लागत न्याय तक पहुंच को बाधित करती है

नागपुर, 14 दिसंबर (भाषा) भारत के प्रधान न्यायाधीश शरद बोबडे ने शनिवार को कहा कि अधिक कानूनी लागत न्याय तक पहुंच को बाधित करती है। उन्होंने साथ ही कहा कि वकीलों को अपनी भूमिका केवल “बहस के लिए भुगतान पाने वाले पेशेवरों” के रूप में नहीं देखनी चाहिए, बल्कि उन्हें खुद को मध्यस्थ के रूप में भी देखना चाहिए। उन्होंने कहा, “हमें मुकदमे से पहले मध्यस्थता की जरूरत है।” न्यायमूर्ति बोबडे, जो नागपुर के निवासी हैं, को यहां उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक समारोह में पूर्व प्रधान न्यायाधीश आर एम लोढ़ा ने सम्मानित किया। न्यायमूर्ति बोबडे ने कहा, “कई चीजें हैं जिनमें हमें सुधार की जरूरत है, एक ह

फडणवीस ने महाराष्ट्र विधानसभा के शीतकालीन सत्र को ‘‘ढोंग’’ बताया

नागपुर, 15 दिसम्बर (भाषा) महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को कहा कि सोमवार से शुरू होने वाला महाराष्ट्र विधानसभा का शीतकालीन सत्र ‘‘ढोंग’’ है क्योंकि उद्धव ठाकरे नीत राज्य सरकार ने मंत्रियों को प्रभार नहीं दिये हैं। महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता फडणवीस ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार राज्य की वित्तीय स्थिति के बारे में ‘‘गलत जानकारी’’ फैला रही है। उन्होंने यह भी मांग की कि राज्य सरकार किसानों को उनके बकाये रिण माफ करने के लिए 23 हजार करोड़ रुपये का भुगतान करे। महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार का नेतृत्व करने वाले ठाकरे ने छह मंत्रियों के साथ 28

सरकारी चाय पार्टी के बहिष्कार के लिये चव्हाण ने विपक्ष पर साधा निशाना

नागपुर, 15 दिसंबर (भाषा) भाजपा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण ने रविवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस होने के बावजूद विपक्षी दल ने प्रदेश विधानसभा के शीत सत्र की पूर्व संध्या पर महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार के साथ चाय पीने से इनकार कर दिया। फडणवीस ने रविवार को कहा था कि उनकी पार्टी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा शाम को दी जा रही रस्मी चाय पार्टी का बहिष्कार करेगी। इस पर टिप्पणी करते हुए चव्हाण ने ट्वीट किया, “यह उम्मीद थी कि विपक्षी दलों के नेता हाई टी में शामिल होंगे और संयुक्त रूप से प्रदेश की समस्याओं पर चर्चा करेंगे।” पूर्व मुख्यमंत्री ने मराठी में एक ट्वीट क

सावरकर पर टिप्पणी के लिये माफी मांगें राहुल गांधी : फडणवीस

नागपुर, 15 दिसंबर (भाषा) महाराष्ट्र विधानसभा में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अपनी ‘मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं’ वाली टिप्पणी के लिये “बिना शर्त” माफी मांगनी चाहिए। संवाददाताओं से बात करते हुए फडणवीस ने यहां यह घोषणा भी की कि भाजपा प्रदेश विधानसभा के शीत सत्र की पूर्व संध्या पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा रविवार को दी गई चाय पार्टी का भी बहिष्कार करेगी। फडणवीस ने कहा, “कांग्रेस नेता राहुल गांधी को सावरकर पर टिप्पणी के लिये बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए। ऐसा लगता है कि उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन के भारतीय इतिहास का अध्ययन नहीं किया है।” दिल्ली