बैडमिंटन: लक्ष्य सेन ने जीता सीजन का 5वां खिताब

ढाकाभारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ने रविवार को यहां बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय चैलेंजर के पुरुष एकल का खिताब अपने नाम कर लिया। लक्ष्य ने दमदार प्रदर्शन करते हुए टूर्नमेंट के फाइनल मुकाबले में मलयेशिया के लेओंग जुन हाओ को हराया। मौजूदा सीजन में यह लक्ष्य का पांचवां खिताब है।

18 साल के इस भारतीय खिलाड़ी ने हाओ को सीधे गेम में 22-20, 21-18 से हराया। वह पिछले सात टूर्नमेंट में से पांचवीं बार चैम्पियन बने। इस जीत के बाद उन्होंने ट्वीट किया, ‘अपने पांचवें खिताब के साथ यहां बांग्लादेश में साल का अंत जीत के साथ करके खुश हूं। उम्मीद है अगले साल भी अच्छी फॉर्म जारी रहेगी।’

कैंसर से लड़ी जंग, श्यामली ने फिर जीता सिल्वर

कोलकातालंबी दूरी के धावकों को कई बाधाओं को तोड़ना होता है और पश्चिम बंगाल के मिदनापुर की ने ऐसी ही कई चुनौतियों से पार पाते हुए टाटा स्टील कोलकाता 25के (25 किमी) दौड़ में रविवार को यहां भारतीय महिला खिलाड़ियों के बीच सिल्वर मेडल हासिल किया। बेहद ही गरीब किसान परिवार से संबंध रखने वाली श्यामली को दो साल पहले ट्यूमर (कैंसर) का पता चला लेकिन इसने भी उनके हौसलों को पस्त नहीं होने दिया।

बिग बाउट बॉक्सिंग लीग: मैरी कॉम हटीं, जरीन निराश

नई दिल्लीतोक्यो ओलिंपिक के क्वॉलिफाइंग टूर्नमेंट के लिए टीम में जगह बनाने को लेकर दिग्गज बॉक्सर एमसी और निकहत जरीन के बीच इस महीने के अंत में ट्रायल प्रस्तावित है। उससे पहले देशभर के खेल प्रेमियों की निगाहें इन दोनों के बीच मंगलवार को बिग बाउट बॉक्सिंग लीग में दिल्ली में होने वाले मुकाबले पर टिकी थीं लेकिन, मैरी ने अनफिट होने का हवाला देकर लीग से नाम वापस ले लिया है।

भारतीय मूल के सरप्रीत का बुंडेसलीगा के लिए डेब्यू

मुंबईयुवा मिडफील्डर जर्मन लीग (बुंडेसलीगा) में खेलने वाले भारतीय मूल के पहले फुटबॉलर बन गए हैं। सरप्रीत ने शनिवार रात वेर्डर ब्रेमेन के खिलाफ खेले गए मैच में बायर्न म्यूनिख के लिए डेब्यू किया। बायर्न म्यूनिख ने इस मैच में फिलिप कोटिन्हो की हैट-ट्रिक की मदद से वेर्डर ब्रेमेन को 6-1 से करारी मात दी।

20 वर्षीय सरप्रीत ने प्री-सीजन के दौरान रियल मैड्रिड और आर्सेनल के खिलाफ अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया था। आधिकारिक पदार्पण से पहले उन्हें आठ बार बायर्न म्यूनिख के बेंच पर बैठना पड़ा था।

हमें लगा बोलिंग में छह विकल्प पर्याप्त होंगे: कोहली

चेन्नै
भारतीय कप्तान ने वेस्ट इंडीज के बल्लेबाजों को जीत का श्रेय देते हुए रविवार को यहां कहा कि धीमी पिच होने के कारण टीम प्रबंधन को गेंदबाजी में 6 विकल्प पर्याप्त लगे थे। भारत इस मैच में 4 मुख्य गेंदबाजों के साथ उतरा था लेकिन उसे 5वें गेंदबाज की कमी खली क्योंकि शिवम दुबे (7.5 ओवर में 68 रन) और केदार जाधव (एक ओवर में 11 रन) प्रभाव नहीं छोड़ पाए। वेस्ट इंडीज ने यह मैच 8 विकेट से जीतकर तीन मैचों की सीरीज में शुरुआती बढ़त बना ली है।