पंजाब सरकार गेहूं खरीद की ‘बाधाओं’ को दूर करे : शिअद

चंडीगढ़, 17 अप्रैल (भाषा) शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने शनिवार को कहा कि पंजाब सरकार गेहूं खरीद की ‘बाधाओं’ को दूर करे, अन्यथा वह राज्यव्यापी प्रदर्शन करेगा।
शिअद नेता प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने यहां एक बयान जारी कर कहा कि गेहूं की खरीद 10 दिन की देरी से शुरू हुई और राज्य सरकार द्वारा ‘तैयारियां नहीं किए जाने से’ इसमें और देरी हुई।
उन्होंने दावा किया कि गेहूं रखने के लिए बोरियों की ‘भारी कमी’ है, जिससे मंडियों में अनाज का ढेर लग गया है, जो पहले ही मजदूरों की कमी का सामना कर रहे हैं।

पंजाब में कोविड-19 से 64 लोगों की मौत, संक्रमण के 4,498 नए मामले

चंडीगढ़, 17 अप्रैल (भाषा) पंजाब में शनिवार को कोविड-19 से 64 और लोगों की मौत हो गई जबकि संक्रमण के 4,498 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही पंजाब में अब तक महामारी की चपेट में आने वालों की संख्या 2,95,138 हो गई है।
दो दिन पहले राज्य में एक दिन में सामने आए सर्वाधिक मामलों की संख्या 4,333 थी।
यहां जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक गत 24 घंटे में 64 लोगों की मौत के साथ राज्य में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 7,834 हो गई है।
बुलेटिन के मुताबिक मोहाली में 10, पटियाला में सात और अमृतसर-लुधियाना-गुरदासपुर में छह-छह लोगों की मौत हुई है।

Gudgaon Monsoon News: अचानक बदला मौसम ने मिजाज, आसमान में छाए बादल, फैला धूल का गुबार

गुड़गांवकई दिन से गर्मी की मार झेल रहे शहरवासियों को शुक्रवार को हुई हल्की बूंदाबांदी ने राहत दी। सेक्टर-22ए सहित अन्य एरिया में आंधी से बिजली के पोल व पेड़ आदि गाड़ियों व सड़कों पर गिर गए। छतों पर रखा प्लास्टिंग का सामान व टीम शेड भी उड़कर दूर जा गिरे। ऐसे में किसी के हताहत होने की जानकारी अभी नहीं मिली है। गुरुवार के मुकाबले तापमान में हल्की गिरावट दर्ज की गई है।

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से प्रदर्शनकारी किसानों से बातचीत करने की अपील की

चंडीगढ़, 17 अप्रैल (भाषा) हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे अपील की है कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों से बातचीत बहाल की जाए।
चौटाला ने कहा कि तीन-चार कैबिनेट मंत्री किसानों से फिर से वार्ता शुरू कर सकते हैं, जो दिल्ली की सीमाओं पर 100 दिनों से अधिक समय से धरना दे रहे हैं।
चौटाला ने पत्र में लिखा, ‘‘मैं आपके ध्यान में लाना चाहता हूं कि हमारे ‘अन्नदाता’ दिल्ली की सीमाओं के पास सड़कों पर धरना दे रहे हैं। यह चिंता की बात है कि यह आंदोलन से 100 से अधिक दिनों से चल रहा है।’’

18 अप्रैल : देशवासियों को आजादी के मायने समझाने वाले तात्या टोपे का बलिदान दिवस

नयी दिल्ली, 17 अप्रैल :भाषा: देश में आजादी का बिगुल फूंकने वाले कई बड़े नामों में एक और नाम तात्या टोपे का भी है, जिन्होंने देश में न सिर्फ 1857 में स्वतंत्रता संग्राम की नींव रखी बल्कि पूरे देश में आजादी की चेतना का सूत्रपात किया और गुलामी को अपनी नियती मान चुकी पूरे देश की जनता को यह बताया कि आजादी क्या होती है और उसे हासिल करना कितना जरूरी है। बहुत कम लोगों को मालूम है कि तात्या टोपे का असली नाम रामचंद्र रघुनाथ टोपे था।
इसके अलावा देश और दुनिया के इतिहास में 18 अप्रैल के दिन कई महत् वपूर्ण घटनाएं हुईं. जिनमें जाने-माने वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का निधन शामिल है।