जोशी बोले- भाजपा और शिवसेना फिर साथ आएंगे

मुंबई . शिवसेना और भाजपा फिर एक साथ आ सकते हैं. इसका संकेत शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी ने दिए है. महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर शिवसेना ने भाजपा का साथ छोड़ दिया था और एनसीपी तथा कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाई है. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री जोशी ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी और भाजपा निकट भविष्य में फिर साथ आ सकते हैं. पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे इस मुद्दे पर उचित समय पर निर्णय लेंगे.

अजय आचार्य जार उदयपुर के महासचिव नियुक्त

उदयपुर. जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान (जार) के जिलाध्यक्ष डॉ. तुक्तक भानावत ने नव निर्वाचित आगामी दो वर्षीय कार्यकारिणी की घोषणा कर दी है. कार्यकारिणी में महासचिव अजयकुमार आचार्य, उपाध्यक्ष मंगीलाल जैन एवं भूपेन्द्रकुमार चौबीसा, कोषाध्यक्ष अल्पेश लोढ़ा, संगठन सचिव विकास बोकडिय़ा, प्रचार सचिव राजेन्द्रकुमार पालीवाल, कार्यकारिणी सदस्य भूपेश दाधीच, राजेन्द्र हिलोरिया, रामसिंह चंदाणा, प्रकाश मेघवाल, अनिलकुमार जैन, जोधाराम देवासी को मनोनीत किया है.

राज्य सरकार सडक़ विकास को लेकर गंभीर : मुख्यसचिव

जयपुर . प्रदेश के सडक़ विकास के प्रोजेक्ट्स को लेकर राज्य सरकार गंभीर है आज नेशनल हाईवेज से जुड़े मामलों की सीएस डीबी गुप्ता ने वीसी के जरिए समीक्षा की और कई महकमों को नेशनल हाईवेज प्रोजेक्ट से संबंधित मामले प्राथमिकता से निपटाने के निर्देश दिए. सीएस ने जिला कलेक्टर्स को शीघ्र लंबित प्रकरण निपटाने के निर्देश दिए गत जुलाई से मुख्य सचिव ने नेशनल हाईवेज प्रोजेक्ट्स की प्रगति की समीक्षा की प्रक्रिया शुरू की थी.

अनुच्छेद 370 पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू, राजू रामचंद्रन रख रहे हैं दलील

नई दिल्ली . जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक बेंच ने सुनवाई शुरू कर दी है. जस्टिस एनवी रमण की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ में जस्टिस एसके कौल, जस्टिस आर सुभाष रेड्डी, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस सूर्यकांत शामिल हैं.

महाराष्ट्र:शपथ लेने के बाद भी उद्धव के मंत्री ‘बेरोजगार’, नहीं मिला कोई काम

मुंबई ( ). महाराष्ट्र में नाटकीय घटनाक्रम के बाद बनी उद्धव ठाकरे की सरकार बने हफ्ते से ज्यादा का वक्त हो गया है, लेकिन अभी तक उनके छह मंत्रियों को काम नहीं दिया गया है. दरअसल उद्धव के 6 मंत्रियों को उनके पसंद का कार्यालय तो दे दिया गया लेकिन अब तक उन्हें विभाग नहीं दिए गए हैं. इसकारण उन्हें यह समझ नहीं आ रहा कि वे इन नए कार्यालय में आखिर क्या करें. मंत्रियों ने कहा कि कार्यालय मिलने से क्या होगा जब तक उन्हें विभाग नहीं मिलेगा तब तक कुछ नहीं कर सकते. उद्धव ठाकरे ने 28 नंवबर को बड़े तामझाम के साथ शिवाजी पार्क में मुख्यमंत्री की शपथ ली थी.